बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख़ खान ने 1992 में फिल्म ‘दीवाना से अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत की थी . लेकिन इससे पहले शाहरुख़ खान 1989 में टीवी पर प्रसारित होने वाले धारावाहिक ‘फ़ौजी’ में अपने अभिनय का जलवा दिखा चुके है. शाहरुख़ खान अपने फ़िल्मी करियर में बहुत से दिग्गज कलाकारों के साथ अभिनय कर चुके है .

शाहरुख़ की पहली ही फिल्म काफी सफ़ल रही थी और वे दर्शकों की निगाहों में आ गए थे. इसके बाद धीरे-धीरे शाहरुख हिंदी सिनेमा में अच्छा काम करते गए और जल्द ही वे बन गए बॉलीवुड के सुपरस्टार. शाहरुख़ को किंग ऑफ़ रोमांस, किंग खान, बॉलीवुड का बादशाह जैसे नाम भी मिले.

शाहरुख़ खान बीते कुछ दिनों से ना ही अपनी फ़िल्में और ना किसी वज्ञापन आदि को लेकर चर्चा में है. बल्कि बीते 20 दिनों से वे अपने बड़े बेटे आर्यन खान को लेकर चर्चाओं में बने हुए हैं. गौरतलब है कि 2 अक्टूबर की रात को शाहरुख़ के बेटे को NCB ने गिरफ़्तार किया था. उसका नाम ड्रग्स केस में सामने आया है और वो फिलहाल मुंबई की आर्थर रोड जेल में बंद है.

बेटे की गिरफ़्तारी के बाद से ही शाहरुख़ से जुड़े किस्से सुनने को मिल रहे हैं. कहीं उनके पुराने वीडियो वायरल हो रहे हैं तो कहीं उनके साक्षात्कार खूब वायरल हो रहे हैं. इसी बीच उनका एक साक्षात्कार सुर्ख़ियों में है जब उन्होंने यह कहा था कि मेरा नाम मेरे बच्चों की जिंदगी खराब कर सकता है.

बता दें कि, अभिनेता का यह साक्षात्कार साल 2008 का है. उन्होंने एक टीवी चैनल को दिए साक्षात्कार में यह बयान दिया था. टीवी चैनल से बातचीत में शाहरुख़ ने अपने बच्चों को लकर भी बात की थी और कहा था कि, जिंदगी में मेरा सबसे बड़ा डर मेरे बच्चों के लिए है. मुझे आशा है कि, वे मेरी छाया से बाहर रह सकेंगे. कम से कम मैं यही चाहता हूं.

अभिनेता ने कहा था कि, ‘मेरा सबसे बड़ा डर उन पर मेरे फेम का प्रभाव है. मैं नहीं चाहता हूं कि वे कभी उससे लड़ें और कहें कि ओह, मैं अपने पिता से बेहतर हूं. मैं ये भी नहीं चाहता हूं कि वे पूरी तरह से इस बात में डूब जाएं कि उन्हें कुछ करने की जरूरत नहीं है क्योंकि वे मेरे बच्चे हैं. यह बिल्कुल सच है कि मेरा नाम उनकी जिंदगी खराब कर सकता है और मैं ऐसा नहीं चाहता हूं. मैं उनके पिता के रूप में जाना जाना चाहता हूं. मैं नहीं चाहूंगा कि वे मेरे बच्चों के रूप में जाने जाएं.’

शाहरुख़ ने अपने बच्चों के बारे में फिल्म निर्देशक करण जौहर के शो ‘कॉफी विद करण’ पर भी बात की थी और कहा था कि, ‘जिंदगी में एक बच्चे को लाने का निर्णय लेना अपने दिल के एक टुकड़े को शरीर के बाहर निकालने जैसा है. मैं अपने रिश्तों की तुलना लोगों से कुछ इसी तरह से करता हूं. अगर मेरा बहुत ही करीबी दोस्त खड़ा हो और कोई तेज रफ्तार कार उसकी तरफ बढ़ रही हो तो मैं खुद आगे कूदकर उसे बचा लूंगा.’

बता दें कि शाहरुख़ खान के तीन बच्चे हैं. साल 1991 में अभिनेता ने गौरी खान से शादी की थी. दोनों साल 1997 में आर्यन खान के माता-पिता बने थे. फिर बेटी सुहाना खान का जन्म हुआ था. जबकि कपल का एक बेटा और है जिसका नाम अबराम खान है.

Leave a comment

Your email address will not be published.