दोस्तो ये तो हम सभी जानते है स्वास्थ्य के लिए फल कितने लाभदायक होते है .इसलिए हम सभी को चाहे बच्चा हो या बुढा फल खाने की सलाह देते है.लेकिन क्या आपको पता है कुछ फल ऐसे भी होते है जो दिखने में बहुत ही स्वादिष्ट लगते है लेकिन होते है जानलेवा .यदि इन फलो को खा लिया जाये तो अपनी जान से हाथ धोना पड़ सकता है . आज हम आपको ऐसे ही एक मामले के बारे में बताने वाले है जिसमे अनजाने में 2 मासूम बच्चों ने ऐसे ही जहरिले फल कस सेवन कर लिए जिसकी वजह से दोनों बच्चो का स्वास्थ्य बिगड़ने लगा और उसके बाद दोनों की ही जान चली गयी .

ये मामला कोलंबिया के रियो डी ओरो (Rio de Oro) का है. ये घटना बीते 17 अक्टूबर को घटी थी. अब हमें यकीन है कि इस मामले को जान आपकी सांसें थम जाएगी, आंखों में आंसू आ जाएंगे और साथ ही दंग रह जाएंगे. रिपोर्ट के मुताबिक दो बेहद ही छोटे बच्चे थे जिनकी उम्र महज 5 साल और 3 साल थी. दोनों अपनी दादी के घर आए हुए थे. आपको बता दें जोफ्रान की उम्र 5 साल और उनकी बहन अमायरा की उम्र 3 साल थी.

दोनों ही बच्चे अपनी दादी के बगीचे में खेल रहे थे, फिर कुछ देर बाद उन बच्चों की नजर फलों पर गई. ये फल दिखने में खूब लाल और स्वादिष्ट लग रहे थे. जब बच्चों ने लाल रंग के फल को देखा तो उन्हें वो सेब समझ आया और उसे तोड़कर वो खाने लगे. मासूम बच्चों को इस बात की बिलकुल भी जानकारी नहीं थी कि वो फल जहरीला भी हो सकता है. रिपोर्ट के मुताबिक जहां लड़के ने 6 फल खाए वहीं लड़की ने 4 फल खाए. जहरीले फलों का सेवन करने के बाद दोनों बच्चों को उल्टियां आनी शुरू हो गई.

बच्चों की ऐसी हालत देखकर उनके पेरेंट्स ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया, लेकिन वो वेनुजुएला के रहने वाले थे तो उनका इंश्योरेंस कोलंबिया में नहीं चल रहा था. जिसके चक्कर में भर्ती कराते-कराते काफी समय लग गया था. उनकी 3 साल की बेटी अमायरा की तबियत खराब हो गई थी, जिसके चलते हुए फौरन आईसीयू में भर्ती करवाया गया. हालांकि उस बच्ची का निधन हो गया था. बेटी के खोने के बाद वे अपने बेटे को खोना नहीं चाहते थे इसलिए बच्चों के पेरेंट्स ने ये सोचा कि उसका इलाज कोलंबिया में ही हो.

लेकिन रास्ते में ही उनके बेटे कि मौत हो गई, जिसका कारण दिल का दौरा पड़ना था. जानकारी के लिए बता दें जो फल बच्चों ने सेब समझ कर खा लिया था. उसको थेवेटिया अहोआई पौधे Thevetia ahouai plant के नाम से जाना जाता है.

Leave a comment

Your email address will not be published.