मुम्बई ड्रग्स केस में हिरासत में लिए गये आर्यन खान को बहुत प्रयास करने के बाद भी जमानत न मिलने पर किंग खान ने हिम्मत नही हारी और एक बार फिर से कोशीश एक और वकील को आर्यन की जमानत के लिए अदालत में गुहार लगाने के लिए कहा .आखिर कौन है वो वकील जिसने वो काम कर दिखाया जिसे इतने दिन से दुसरे वकील नही कर पा रहे थे .

आपको बता दें कि, इससे पहले दो दिग्गज वकील आर्यन की जमानत में लगे हुए थे. लेकिन वह जमानत दिलाने में सफल नहीं हो सके. अब आप सोच रहे होंगे कि, आखिर शाहरुख खान ने ऐन मौके पर मुकुल रोहतगी पर भरोसा क्‍यों किया है? कौन है मुकुल रोहतगी? आपके मन में उठ रहे सभी सवालों का जवाब यहां हैं. तो हम आपको बता दें कि, मुकुल देश के दिग्गज वकीलों में से एक हैं. वह देश के कई बड़े मामले देख चुके हैं.

यही नहीं मुकुल रोहतगी के पिता अवध बिहारी रोहतगी दिल्‍ली हाई कोर्ट के जज थे. उनको 19 जून 2014 को देश के तत्‍कालीन राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने देश का अटॉर्नी जनरल बनाया था. मुकुल 18 जून 2017 तक देश के 14वें अटॉर्नी जनरल के पद पर रहे. मुकुल रोहतगी सुप्रीम कोर्ट के वरिष्‍ठ और देश के दिग्‍गज वकील हैं.मुकुल रोहतगी की फीस को लेकर कई मिडिया रिपोर्ट्स में दावा किये जाते हैं. ऐसा कहा जाता है कि, वह अपनी एक सुनवाई के लिए लगभग 10 लाख रुपए की फीस चार्ज करते हैं.


हालांकि, 2018 में एक RTI में दिए जवाब में महाराष्‍ट्र सरकार ने बताया था कि उन्होंने सीनियर काउंसल मुकुल रोहतगी को राज्‍य सरकार की तरफ से जज बीएच लोया केस के लिए फीस के रूप में 1.21 करोड़ रुपए दिए गए थे. रोहतगी ने तब महाराष्ट्र राज्‍य सरकार की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में पैरवी की थी.बहरहाल जनता और शाहरुख़ के फैन्स को मुकुल की फ़ीस से अधिक इसमें दिलचस्पी रहेगी कि, वह आर्यन को जल्द से जल्द जमनात दिलाएं। हालांकि इससे पहल आर्यन का केस देख रहे सतीश मानशिंदे भी देश के दिग्गज वकीलों में से एक हैं. वह सेलिब्रिटी वकील भी कहे जाते हैं.सलमान खान से लेकर संजय दत्त तक के केस वह लड़ चुके हैं. लेकिन आर्यन मामले में उनके हाथ सफलता न लगता देख शाहरुख़ ने अब एक और दिग्गज को भी इसमें शामिल कर दिया है.

Leave a comment

Your email address will not be published.