मित्रों ऐसे तो हमारे बॉलीवुड में बहुत से अभिनेता और अभिनेत्रियों ने बाखूबी अपने अभिनय से हम लोगों को मनोंरजिंत किया है और इन कलाकारों ने ऐसी-ऐसी सुपर-डुपर हिट फिल्में दी है जो कि हम लोग देखने के पश्चात इनके रोल को भूल ही नही पाते है। ऐसे तो हमारी फिल्म इंडस्ट्री में खूबसूरती में एक से बढ़कर एक अभिनेत्रियां है जिनको देखकर हम लोग मुग्द हो जाते है। इसी क्रम में आज हम एक ऐसी फिल्म के संबंध में बात करने वाले है, जिसमें दिग्गज अभिनेता विनोद खन्ना और बॉलीवुड की मशहूर अदाकारा माधुरी दीक्षित के बीच एक बेहद बोल्ड सीन फिल्माया गया था, जिसको लेकर अक्सर माधुरी दीक्षित सुर्खियों में रही है।

दरअसल आज हम जिस फिल्म की बात कर रहे है उसका नाम “दयावान” है। इस फिल्म में माधुरी दीक्षित और विनोद खन्ना ने फिल्म में अहम रोल अदा किया था, साल 1988 में प्रदर्शित हुई इस फिल्म का निर्देशन दिवंगत अभिनेता फिरोज खान ने किया था, वहीं फिरोज ने फिल्म में अभिनय भी किया था, इसके अलावा फिल्म में मशहूर खलनायक रहे अमरीश पुरी ने भी मुख़्य भूमिका अदा की थी। फिल्म ‘दयावान’ माधुरी और विनोद खन्ना के बीच हुए एक किसिंग सीन को लेकर ख़ूब चर्चा में रही थी, विनोद और माधुरी के बीच किसिंग सीन बंद कमरे में फिल्माया गया था, बता दें कि, माधुरी के साथ किसिंग सीन करने के दौरान विनोद खन्ना बहक गए थे। आपको बता दें कि फिल्माया गया यह सीन करीब 30 सेकेंड का था हालांकि शूटिंग के दौरान विनोद खन्ना सुध-बुध खो बैठे थे और वे कट बोलने के बाद भी लगातार माधुरी को चूमते रहे थे, इससे माधुरी काफी असहज हो गई थी, बताया जाता है कि विनोद खन्ना ने इस दौरान एक्ट्रेस के होंठ भी काट लिए थे।

आपकी जानकारी के लिये बता दें कि माधुरी दीक्षित को आज भी इस फिल्म में दिए गए किसिंग सीन को लेकर पछतावा होता है, सालों पहले उन्होंने एक साक्षात्कार में इस पर बात करते हुए कहा था कि, ‘फिल्म ‘दयावान’ में उन्होंने जो किसिंग सीन किए, उसका उन्हें आज भी पछतावा होता है,’ जानकारी के लिए बता दें कि बाद में विनोद खन्ना ने अभिनेत्री से माफी मांगी थी। वहीं इस फिल्म के दिग्गज़ खलनायक रहे अमरीश पुरी ने अपने पूरे फ़िल्मी करियर में कभी भी किसी फिल्म में छोटा रोल नहीं किया था हालांकि ‘दयावान’ उनकी एक मात्र ऐसी फिल्म थी जिसमें वे छोटे रोल में नज़र आए, फिल्म में शॉर्ट रोल उन्होंने फिरोज खान के कहने पर किया था।

जहां अमरीश पुरी के फ़िल्मी करियर की यह पहली और आख़िरी ऐसी फिल्म थी जिसमें वे शॉर्ट रोल में नज़र आए थे तो वहीं फिरोज खान के करियर की यह पहली ऐसी फिल्म थी जिसमें वे सेकेंड लीड रोल में थे, यह फिल्म तमिल फिल्म नायकन की हिंदी रीमेक थी। इसके अधिकार को पाने के लिए फिरोज ने 10 लाख रुपये दिए थे। बताया जाता है कि दयावान के लिए पहले मेकर्स ने दिवंगत अदाकारा श्रीदेवी को अप्रोच किया था, फिरोज खान ने इसके लिए श्रीदेवी से कई बार मुलाक़ात भी की थी हालांकि श्रीदेवी उस समय बेहद व्यस्त चल रही थी और उनके पास डेट्स नहीं थी, ऐसे में बाद में यह फिल्म माधुरी की झोली में आई, फिल्म को दर्शकों से अच्छा रिस्पॉन्स मिला था, बता दें कि, फिरोज की यह विनोद और माधुरी दोनों के ही साथ आख़िरी फिल्म थी। इस जानकारी के संबंध में आप लोगों की क्‍या प्रतिक्रियायें है? कमेंट बॉक्‍स में अवश्‍य लिखें। मित्रो अधिक रोचक बाते व लेटेस्‍ट न्‍यूज के लिये आप हमारे पेज से जुड़े और अपने दोस्तो को भी इस पेज से जुड़ने के लिये भी प्रेरित करें।

Leave a comment

Your email address will not be published.